ऐतिहासिक-व्यक्तित्व-2

The Great people
ऐतिहासिक-व्यक्तित्व-1
July 21, 2020
The Great people
ऐतिहासिक व्यक्तित्व – 3
July 26, 2020
The Great people

The Historical Personalities

महावीर स्वामी : एक दृष्टि में

Mahavira Swami : At a Glance

वास्तविक नाम – वर्द्धमान

आध्यात्मिक नाम – महावीर स्वामी

महावीर स्वामी

जन्म – 540 ई. पू. (स्रोत –India earliest times to 1206 AD – Bharti Bhawan )

जन्म-स्थल– कुण्डग्राम (वैशाली के निकट)

परिवार – क्षत्रिय राजपरिवार

पिता – सिद्धार्थ ( ज्ञान्त्रिक कुल के गणराजा)

माता– त्रिशला (लिच्छवि गणराज्य के प्रधान चेटक की बहिन)

पत्नी– यशोदा (राजा समरवीर की पुत्री)

पुत्री – प्रियदर्शना

पुत्री दामाद – जमालि (क्षत्रिय युवक)

संन्यास -30 वर्ष की उम्र में (महापरिभिनिष्क्रमण के नाम से प्रसिद्ध)

संन्यास की अनुमति – भाई नन्दिवर्द्धन से (पिता की मृत्यु के पश्चात )

वस्त्र त्याग – संन्यास के ग्यारह मास के उपरान्त

कैवल्य (पूर्ण ज्ञान) प्राप्ति – 12 वर्ष 6 माह की तपस्या के उपरान्त

कैवल्य प्राप्ति स्थल – जम्भिकग्राम (जृम्भिका) के समीप ऋजुपालिका नदीं के तट पर शाल्मलि वृक्ष के नीचे.

उपनाम – 1. केवलिन (पूर्ण ज्ञान प्राप्ति के कारण)

         2. जिन (इन्द्रियों पर विजय प्राप्त करने के कारण)

         3. महावीर (अत्यधिक कष्टों को सहने की क्षमता के कारण)

धर्म प्रचार क्षेत्र – चम्पा, वैशाली, राजगृह

अनुयायियों का सम्बोधन – जैन

प्रमुख शिष्य –  (।) अग्निभूति (2) इन्द्रभूति (3) वायुभूति (4) सुधर्मन (5) मण्डित (6) मोरियपुत्र (7) अचलभ्राता     (8) प्रयास (9) मेसार्य (10) अकम्पित (11) व्यक्त  (12) चेटक (वैशाली के शासक) (13) प्रद्योत (अवन्ति के शासक) (14) बिम्बिसार (15) अजातशत्रु (16) दघिवाहन (17) मल्लराजा सूस्तिपाल

प्रथम भिक्षुणी – चम्पा नरेश दघिवाहन की पुत्री चन्दना

महावीर स्वामी के पश्चात्‌ प्रथम थेर – सुधर्मन

तीर्थंकर – चौबीसवें तीर्थंकर

मृत्यु (महापरिनिर्वाण) -468 ई.पू. (पावापुरी में) ( स्रोत -प्राचीन भारत का इतिहास–झा एवं श्रीमाली,पृष्ठ – 147)

नोट – समस्त तथ्य भारतीय इतिहास की प्रामाणिक पुस्तकों पर आधारित है . विकिपीडिया में महावीर स्वामी का जन्म वर्ष – 599 ई.पू. एवं मोक्ष प्राप्ति (मृत्यु )का वर्ष 527 ई.पू.  बताया गया है. लेकिन प्रतियोगिता परीक्षाओं में उत्तर के लिए विकिपीडिया जैसे स्रोतों को प्रामाणिक नहीं माना जाता .

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *